Sale!

काया वर्धक – Kaya Vardhak

2,550.00 1,990.00

काया-वर्धक– 【प्रबल शरीर, बल-बुद्धि, हस्ट-पुष्ट काया】[Weight Gain, Muscles Growth, Strong Bones & Improve Digestive System]

Category:

इस दवा से वजन 10 kg के आस पास बढ़ सकता है। ये दवा हम खुद तैयार करते है। इससे शरीर की मांसपेशियां मजबूत बनेगी, हड्डिया मजबूत होंगी, पाचन क्रिया अच्छी बनेगी, भूख लगेगी और कोई कमजोरी भी नहीं आएगी इससे चुस्ती फुर्ती बनेगी। दवा पूरी तरह से आर्युवेदिक है, जिसका कोई साइड इफ़ेक्ट नहीं है।

समस्या : दुबलापन और कमजोरी : अक्सर ऐसा देखा जाता है कि हम जो कुछ भी खाते पीते हैं उस का असर हमारे शरीर पर कुछ भी नहीं होता, या हमें भूख ही नहीं लगती, दिनभर भी भागदौड़, नौकरी की टेंशन, पढ़ाई की टेंशन, उधार-कर्ज, मन में हजारों बातें होती हैं इस बीच अपनी सेहत पर ध्यान देना असंभव सा काम हो जाता है, प्रथम: सुख नि:रोगी काया होता है ये सभी जानते हैं लेकिन जब शरीर उस खाने को पचाने में ही असमर्थ हो तो क्या किया जा सकता है ! उसी के समाधान के लिए है शुद्ध देशी आयुर्वेदिक जड़ी बूटियों से बना काया-वर्धक !

अग्निमांद्य या जठराग्नि का मंद होना ही अतिकृशता का प्रमुख कारण है। अग्नि के मंद होने से व्यक्ति अल्प मात्रा में भोजन करता है, जिससे आहार रस या ‘रस’ धातु का निर्माण भी अल्प मात्रा में होता है। इस कारण आगे बनने वाले अन्य धातु (रक्त, मांस, मेद, अस्थि, मज्जा और शुक्रधातु) भी पोषणाभाव से अत्यंत अल्प मात्रा में रह जाते हैं, जिसके फलस्वरूप व्यक्ति निरंतर कृश से अतिकृश होता जाता है। इसके अतिरिक्त लंघन, अल्प मात्रा में भोजन तथा रूखे अन्नपान का अत्यधिक मात्रा में सेवन करने से भी शरीर की धातुओं का पोषण नहीं होता।

लाभ: इस दवा से वजन 10Kg के आस-पास बढ़ सकता है। ये दवा हम खुद तैयार करते हैं ! इससे शरीर की मांशपेशियां बजबूत बनेंगी, हड्डियां मज़बूत होंगी, पाचन क्रिया अच्छी बनेगी, भूख लगेगी और कोई कमजोरी भी नहीं आएगी बजाय इसके चुस्ती फुर्ती बनेगी ! दवा पूरी तरह से आयुर्वेदिक है, जिसका कोई साइड इफ़ेक्ट नहीं है !

मात्रा : एक छोटी चम्मच दवा की (बनाना शेक या कम से कम 500ml दूध) के साथ-सुबह शाम खाना खाने से 1 घंटे पहले या खाना खाने के आधे घंटे बाद लें।

परहेज़ : इसमें आपको तली हुई चीजों, लाल मिर्च, (चटपटे) खटाई, नींबू, चटनी, मौसमी, अचार वगैराह के परहेज रहेंगे !

आयु वर्ग: इस दवा को 15 से लेकर 65 वर्ष तक कि आयु में कोई भी स्त्री-पुरुष ले सकते हैं !

हिदायतें : महिलाओं में प्रग्नेंसी के वक़्त या स्त्री-पुरुष किसी भी प्रकार के शारीरिक ऑपरेशन के तीन महीने तक इस दवा का सेवन ना करें !

ध्यान दे ! हमारी समस्त दवाएं अपने प्रभाव और परिणाम से आयुर्वेद की कसोटियों पे परिपूर्ण हैं, जिनके नियमित व उचित मात्रा में उपयोग से शरीर में किसी प्रकार का कोई साइड इफ़ेक्ट नहीं होता है ! दवा के इस्तेमाल से पहले उसके सेवन कि विधि, मात्रा और परहेज़ एक बार ध्यान से पढ़ लें !

 

Reviews

There are no reviews yet.

Be the first to review “काया वर्धक – Kaya Vardhak”

Your email address will not be published. Required fields are marked *